आँखों को फड़कने के कारण और उपचार

आँखों को फड़कने के कारण और उपचार

नमस्कार दोस्तों अभी हम आपको कुछ आँखों को फड़कने के कारण और उपचार बताने वाले है। यह सभी उपचर आपको जरूर लाभदायी होंगे तथा इसका आपको जरूर लाभ होगा ऐसी हमें आशा है। जैसे कि हमने बताया आपको हम अभी आंखों के फड़कने के उपचार तथा कारण हम बताने वाले हैं।  यह सभी हुई जानकारी आपको जरुर पसंद आएगी आपको जरूर लाभ होगा ऐसी हमें आशा है।

आँखों को फड़कने के कारण और उपचार

आँखों को फड़कने के कारण और उपचार

आंख फड़कने के कारण :

उसको देखा जाए तो आंख फड़कने का ऐसा कोई निश्चित कारण नहीं है।  इसलिए हम आपको कुछ आंख फड़कने के कारण बताने वाले हैं वह हमने नीचे बताया है।

  • आंखों की मांसपेशियों में जकड़न आने के कारण आंख फड़कती है इसलिए आंख फड़कने के लिए मांसपेशियों की जकड़न होना यह कारण निश्चित माना जाता है यह मांसपेशियां तनाव के कारण जकड़ती है।
  • ज्यादा थकान की वजह से आंखों का फड़कना यह सामान्य माना जाता है।
  • ज्यादा शराब पीने के कारण  भी आंखों का फड़कना हो जाता है इसलिए ज्यादा शराब पीना भी सेहत के लिए अच्छा नहीं होता।

आंखों का फड़कना व्यवस्था सामान्य माना जाता है इसलिए इस से डरने की कोई भी जरूरत नहीं है।

 

आंखों का फड़कना कम करने के उपचार :

दोस्तों आंखों का फड़कना कम करने के कुछ  घरेलू उपाय तथा आयुर्वेदिक उपाय पाए गए हैं सभी उपाय अब हम आपको बताने वाले हैं।  या आपको जरूर लाभदाई होंगे ऐसी हमें आशा है।

  • आंखों का फड़कना बंद करने के लिए आपने  दिन में योग करना यह एक उपाय माना जाता है यह करने से आंखों का फड़कना बंद होने में आपकी जरूरत होती है क्योंकि योग करने से अपने शरीर का तनाव कम होने में हमें मदद होती है तथा दिमाग का तनाव कम होने में मदद होती है इसलिए आंखों का फड़कना कम करने के लिए आपने दिन में योग करना भी आवश्यक माना जाता है इसलिए दिन में योग करें।
  • जब आंख का फड़कना चालू हुआ हो तभी आपने अपने आंखों का मसाज करना भी आवश्यक माना जाता है ऐसा करने से आंखों का फड़कना कम हो जाता है।
  • जब आंख फड़कती है तब आपने अपने आंखों का मसाज गर्म पानी से करना भी आवश्यक माना जाता है।
  • जब आंख फड़कती  हो तो आपने अपने चेहरे को ठंडे पानी से धो लें तथा अपने चेहरे को ठंडे पानी से धोने से  आंखों की मांसपेशियो को राहत मिलती है और उसी की वजह से आंखों का फड़कना कम होने में भी मदद होती है।
  • आंख फड़क रही हो तभी आपने कॉपी तथा सोडा पीना बंद करे। यह पिने से भी  आंखों का फड़कना हो सकता है।
  • आंखों का फड़कना कम करने के लिए आपने दिन में  6 से 8 घंटे नींद लेना भी आवश्यक माना जाता है ऐसा करने से आपकी आंखों को राहत मिलती है और आंखों की मांसपेशियां अच्छी रहने में भी उनको मदद मिलती है इसलिए दिन में 6 से 8 घंटा सोना अवश्य माना जाता है।

जानिए : आंखों के सूजन के उपाय

आपको हमने बताया आंखों के फड़कने के उपाय तथा आंखों के फड़कने के कुछ घरेलू उपचार तथा आंखों के फड़कने के आयुर्वेदिक उपचार आपको कैसे लगे  यह हमें आप नीचे कमेंट करके बता सकते हैं आपको कोई भी जानकारी चाहिए हो तो आप हमें नीचे कमेंट करके पूछ सकते हैं।

 

The Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

देसी घरेलु नुस्खे © 2018